विशिष्ठ एवं सरल उपाय

मानसिक एवं आंतरिक शांति
Mantra for Peace
21 Aug 2017

Mantra for Peace of Mind- मानसिक एवं आंतरिक शांति हेतु विशिष्ठ एवं सरल उपाय

Mantra for Peace of Mind and Happiness

(ग्रह पीड़ा निवारण में भी अतिउपयोगी विशेषकर चंद्र, बुध, राहु, केतु, गुरु) –

राम नाम की महिमा से सभी अवगत हैं इस लेख में आज एक छोटी एवं अत्यंत ही सरल और उपयोगी आध्यात्मिक तकनीक का उल्लेख किया गया हैं। जिसे लगातार सामान्य रूपसे या अगर जब कभी आप अत्यधिक तनाव को महसूस कर रहे हों तो किसी स्थान पर जहाँ थोड़ी शांति हो किसी भी आसान आसन में बैठ जाय या नहीं बैठ पाते हैं तो कुर्सी पर ही बैठ जायँ और आँखों को बंद कर पहले ५ बार सामान्य सांस ले और छोंड़े फिर किसी भी एक मंत्र-

‘सीता-राम’  या  ‘हरे राम कृष्ण’ या  ‘श्री राम-राम राम’

Read More : कुछ साधारण किन्तु बहुउपयोगी वास्तु टिप्स (SIMPLE VASTU TIPS)

जो भी मंत्र आपको मन में बोलने में आसान लगे, उसे चुनकर उसका निरंतर अभ्यास करें । मंत्र को सांस को अंदर लेते हुए मन ही मन में बोलना है और जब सांस लेना रुक जय तो मंत्र को भी न बोले और फिर सांस को छोड़ते हुए मंत्र को मन ही मन बोलते रहे इसी तरह से सांस लेते हुए छोड़ते हुए मंत्र बोलना है मन ही मन में। इस अभ्यास को जितनी देर आपका मन लगे ५ मिनट १० मिनट या अधिक भी कर सकते हैं थोड़ी ही देर में आप अपार शांति एवं अपने को प्रसन्न चित महसूस करेंगे ये एकदम चमत्कारिक सहज विधि है जिसे कई ऋषियों और विद्वानो ने स्वीकृत किया है।

Read More : हनुमानजी (HANUMAN JI) के आराधना सम्बंधित कुछ उपयोगी तथ्य

इस विधि को आप एक प्रकार का ध्यान भी कह सकते हैं पहले थोड़े फिर लम्बे समय तक करने से व्यक्ति के अंदर नकारात्मकता, क्रोध, भय, निराशा, उद्वेलना आदि कम होने लगती है एवं व्यक्तित्व में प्रत्यक्ष रूपांतरण होने लगता स्वतः ही कुछ ही महीनों में व्यक्ति अपने आपको परमात्मा की असीम ऊर्जा से भरा हुआ पाता है और समस्त प्रकार की मनोविकार, नकारात्मकता इत्यादि का नाश हो जाता है।

इस प्रयोग हो हमने कई ग्रह चंद्र, बुध, राहु, केतु, गुरु आदि जोकि मानसिक कष्ट देने में सक्षम होते हैं उनमे भी शांति देने वाला एवं उपयोगी पाया है।

#jupiterspeaks

नमो नारायण।

Jupiter Speaks

Leave a Reply